You are here
Home > YOGA > कैसे करें सुप्तपवनमुक्तासन

कैसे करें सुप्तपवनमुक्तासन

Pavanamuktasana1

Suptapawanamuktasana

जमीन पर पीठ के बल दोनों पैरों को फैला कर लेट जाइए। राईट घुटने को मोड़िए। एक पैर को हाथों से पकड़ कर पिंडली और जांघ को कस कर पकड़िए ताकि मुड़ा हुआ पैर दोनों हाथों के बीच फंस जाए। सिर को थोडा उठा कर हाथों से पकड़ कर पिंडली और जांघ के भाग को दबाइए और खींचिए ताकि कमर का ऊपरी तथा निचला भाग जमीन से बिल्कुल ऊपर उठ जाए और ठुड्डी घुटने को छूती रहे।

क्रम से बार-बार लेफ्ट और राईट पैर से बदल कर यह आसन कीजिए।

लाभ:

  • यह आसन नितम्बों को सुन्दर और पुष्ट बनाता है।
  • पाचक क्रिया ठीक रखता है।
  • अपच और वायु विकार नष्ट करता है।
  • घुटने का दर्द, गठिया तथा कमर के दर्द को दूर करता है।
Top