You are here
Home > YOGA (Page 4)

स्मरणशक्ति विकासक आसन

Smaranshakti viksaka yoga अपने पैरों को एक दूसरे से मिलाइये। पैरों से कन्धों तक के भाग को सीधा रखें और अपने मुंह को बंद रखें। अपने पैरों से डेढ़ गज दूर धरती पर नज़र जमाईये और खड़े हो जाइए। गर्दन को स्थिर रखेँ। अब अपनी सांस को अंदर और बाहर करिये।

कटिचक्रासन कैसे करें

Katichakrasana ज़मीन पर दोनों पैरों में एक फुट का अंतर रख कर खड़े हो जाइए। फिर दोनों हाथों को सीने के सामने जमीन के समानान्तर फैलाकर लेफ्ट तरफ इतना घूमें कि राइट तरफ का भाग पूरी तरह दिखाई दे। इसके बाद राइट तरफ कमर को घुमाते हुए इतना मोड़ें कि लेफ्ट

ब्रहाचर्यासन कैसे करें

Bramhacharyasana दोनों पैरों को घुटनों से मोड़ते हुए ज़मीन पर बैठ जाइए। अब पैरों को दोनों ओर फैलाइए तथा हाथों को घुटनों पर रख दीजिए ताकि नितम्ब का भाग ज़मीन से लगा रहे। इसी स्थिति में गर्दन को सीधा कर बैठे रहिए। लाभ: यह आसन मन को एकाग्र करता है। घुटनों के

पादहस्तासन कैसे करें

Padahastasana जमीन पर खड़े हो जाइए। दोनों पैरों को आपस मे मिला दीजिए। फिर दोनों हाथों के पंजों को खोल कर पूरे शरीर को ऊपर की ओर खींचिए और सामने की ओर से अपने दोनों हाथों को पैरों के पास लाकर जमीन को छूएं। हथेलियों से जमीन को पकड़िए और इसी

शशांक आसन कैसे करें

Shashankasana वज्रासन (वज्रासन के लिये यहाँ पढ़ें ) मे बैठ जाइए। अब सांस लेते हुए दोनों हाथ इस प्रकार उठाइये कि दोनों भुजाये कानों से सट जायें। फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए, हाथ व सिर भूमि की ओर लाइये। हाथ भूमि पर लग जाने के बाद सांस को बाहर ही रोक

कैसे करें शीर्षासन

Sheershasana एक छोटे से कपड़े का गोला बनाइए। उसे ज़मीन पर रख दीजिए अब अपने दोनों हाथों की उंगलियों को आपस मे फंसाकर सिर पर रखिए। इस के बाद सिर को कपड़े के गोले पर लगाकर घुटनों को इतना ऊपर उठाए कि पैर से जांघ तक का भाग बिल्कुल सीधा हो

कैसे करें सुखासन

Sukhasana एक विधि: ज़मीन पर पैर मोड़ कर आराम से बैठ जाइए। दोनों हाथों की हथेलियों को खोल कर एक-के ऊपर एक रख दीजिए। दूसरी विधि: ज़मीन पर पैर मोड़ कर आराम से बैठ जाइए। अपने दोनों हाथों को घुटनों पर रख दीजिए। लाभ: यह आसन ध्यान लगाने और प्राणायाम में सहायक है। यह आसन सिद्ध करने

कैसे करें भूनमनासन

Bhunmanasana नितम्ब के बल जमीन पर बैठ जाइए। दोनों पैरों को अपने दोनों हाथों की ओर पंख की तरह फैलाइए। अपने हाथों से पैरों के अंगूठों को पकड़िए। अब पेट, छाती और ठुड्डी को जमीन से स्पर्श कीजिए। इस स्थिति में जब तक सम्भव हो स्थित रहिए। लाभ • यह आसन नितम्बों की

कैसे करें प्रणवासन

Pranavasana नोट: यह आसन स्त्रियां ना करें. यह आसन केवल पुरुषों के लिए है. विधि: दोनों पैरों को फैला कर पीठ के बल जमीन पर लेट जाइए। राइट पैर को घुटनों से मोड़िए फिर लेफ्ट हाथ से राइट पैर की एड़ी को पकड़िए। अब राइट पैर को कंधे के पीछे से ले जाकर

कैसे करें बद्धपद्मासन

Badhhapadmasana पद्मासन में बैठ जाइए। पीठ के पीछे से बायें हाथ को लाइए और बाएं पैर के अंगूठे को पकड़िए| इसी प्रकार दाय पैर के अंगूठे को दायें हाथ से पकड़िए। सम्पूर्ण शरीर को सीधा रखते हुए इस स्थिति में बने रहिए और नाक की सीध में देखिए। लाभ: यह आसन गर्दन, कंधे,

Top