You are here
Home > YOGA (Page 8)

भद्रासन कैसे करें

bhadrasan

Bhadrasana yoga अपने पैरों की एड़ियों को उल्टा कर जमीन पर जांघों में अंतर रखिए और घुटने टिका कर बैठ जाइए। फिर दोनों हाथों को पीछे की ओर ले जा कर अपने दोनो हाथों से दोनों पैरों के अंगूठों को पकड़िए ताकि लेफ्ट पैर का अंगूठा राईट हाथ में आ जाए

सिंहासन कैसे करें

Simhasana

Singhasana yoga दोनों पैरों को आपस में मिलाकर जमीन पर बैठ जाइए। दोनों पंजों को भी आपस में मिलाइए। अब दोनों एड़ियों को ऊपर की ओर उठाइए। घुटनों को दोनों तरफ लेफ्ट राईट खोलिए। अपनी ठुड्डी को गले की हड्डी से लगाइए। अब अपनी सुविधानुसार मुंह खोलिए और जीभ को जितना

ताड़ासन कैसे करें

Tadasana

Tadasana yoga जमीन पर सीधे खड़े हो जाइए। अपने दोनों पैरों को आपस में मिलाकर अपने पंजों के बल खड़े हो जाइए फिर अपने दोनों हाथों की हथेलियों को खोलिए और अपने दोनों कानों के पास ऊपर की ओर उठाइए कमर से पैर तथा कन्धों तक के भाग को पहले की

मकरासन कैसे करें

Makrasana yoga पेट के बल जमीन पर लेट जाइए। अपने दोनों हाथों को सिर की दिशा में फैला कर आपस में मिला दीजिए। पैर आपस में मिले रहें और दोनों पैरों के पंजे जमीन को छूते रहें। लाभ: शरीर के अंदर शूक्ष्म शक्ति को बढ़ाता है जिससे शरीर मजबूत होता है। यह आसन

कैसे करें कोनासन

Konasan

Konasana yoga अपने दोनों पैरों को फैला कर सीधे खड़े हो जाइए। बाएं हाथ को नीचे लेफ्ट पैर की उंगलिओं पर रखिए। दाहिने हाथ को ऊपर ले जाइए। कमर आगे पीछे नहीं होनी चाहिए। इसी प्रकार दूसरे हाथ से भी कीजिए। लाभ: यह आसन शरीर को हल्का करता है । यह आसन ठिगनेपन को

पद्मासन कैसे करें

Padmasana

Padmasana yoga जमीन पर बैठ जाइए। लैफ्ट पैर को घुटने से मोड़िये और एड़ी को राईट जांघ पर ऐसे रखिये कि ऐड़ी नाभि के पास आ जाए। फिर राईट पैर को घुटने से मोड़ कर इसे लैफ्ट जांघ पर ऐसे रखिये कि दोनों एड़ियां नाभि के पास आपस में मिल जाएं।

सर्वांगासन कैसे करें

Halasan

Sarwangasana yoga पीठ के बल जमीन पर लेट जाइए । हाथों की हथेलियों को नितम्ब की ओर स्थिर रखें। दोनों पैरों को बिना घुटने मोड़े जमीन से धीरे -धीरे ऊपर उठाओ और इतना ऊपर ले जाओ कि दोनों पैरों के अंगूठे सिर के पीछे जमीन से लग जाए। जब तक सम्भव हो

योगासन के लाभ

yoga

Benefits of yogasana योग प्राचीन काल से ही लाभकारी रहा है। इसके प्रयोग से बुरी-से-बुरी बीमारियों पर विजय पाई जा सकती है । योग हर तरह से सुरक्षित है।  इसके पास अनगिनत बिमारियों का समाधान है तथा इसके साथ ही ये हमें कई बड़ी-बड़ी बिमारियों से भी बचाने में सक्षम है

Top